2017, മാർച്ച് 8, ബുധനാഴ്‌ച


ANNUAL EVALUATION 2016-17
Third Language
Hindi
Std 1X Answer key
Qn. No.
Value Point / Indicators
Score/per point
Total
Score
1
आशय गृहण करके उत्तर लिखा है। (सारस)
1
1
2
आशय समझकर दो पंक्तियाँ चुनकर लिखी है।
आशय समझकर एक पंक्ति लिखी है।
(पानी को खोजते
दूर-देसावर तक जाना था उन्हें )
1
1


2
3
कवितांश का विश्लेषण करके वर्तमान संदर्भ पर इसकी चर्चा करते हुए आशय लिखे हैं ।
कविता का विश्लेषण करके आशय लिखे हैं।
आशय लिखने की कोशिश की है।
3

2
1



3

4
किताब
1
1
5
आशय गृहण करके चरित्र की विशेषता पूर्ण रूप से लिखा है।
आशय गृहण करके आँशिक रूप चरित्र की विशेषता लिखा है।
लिखने का प्रयास किया है।
( आत्मविश्वास, चुनौतियों को जीतने का मनोबल, परिश्रमी व हार न माननेवाली )
3

2
1

3
6
पत्र
संकेतों के सहारे उचित भाषा में पत्र की रूप रेखा का पालन करते हुए
प्रेमचंद के बारे में अपने मित्र के नाम पत्र लिखा है।
संकेतों के सहारे पत्र की रूप रेखा का पालन करते हुए प्रेमचंद के बारे में पत्र लिखा है।
संकेतों के सहारे पत्र लिखा है।
पत्र लिखने का प्रयास किया है।
( प्रसंगानुकूल-पत्र की शैली -स्थान,दिनांक-स्वाभाविक भाषा- पता )


4

3

2
1





4
7.
खुद संसार रूपी पुस्तक को पढ़ना दुनिया का पुराना हाल जानने का असली तरीका है। (सही उत्तर)
1
1
8.
(ंबन्ध पहचानकर सही मिलान करता है।)
तीनों का सही मिलान किया है।
दो मिलान सही है।
एक मिलान सही किया है।
दुनिया का एक छोटा -सा टापू - इंगलैंड
दुनिया का एक बहूत बड़ा देश –- हिंदुस्तान
संसार की पुस्तक का छोटा -सा पृष्ठ –- छोटा-सा रोड़ा


3
2

1





3




9.
संसार पुस्तक है -विषय पर वस्तुनिष्ठ रूप में अपना विचार लिखा है।
प्रस्तुत विषय पर आँशिक रूप से अपना विचार लिखा है।
लिखने का प्रयास किया है।
अथवा
वस्तुनिष्ठ रूप में कथन का समर्थन करके लिखा है।
आँशिक रूप से कथन का समर्थन करके लिखा है।
लिखने का प्रयास किया है।
3

2

1

3
2

1


3






3
10.
( समानार्थी खड़ीबोली शब्द चुनकर लिखा है )
() मोहि - मुझे
() खिझायो - चिढ़ाया


1
1



2
11.
मैया मोहि दाऊ बहूत खिझायो ।
मोसों कहत मोल को लीनो तोहि जसुमति कब जायो ।।
(उचित दो पंक्तियाँ चुनकर लिखा है।)

2

2
12.
शीर्षक देकर कविताँश का विश्लेषण करके पंक्तियों का आशय लिखा है।
पंक्तियों का आशय लिखा है।
आशय लिखने का प्रयास किया है।
3

2
1

3
13.
उचित उत्तर लिखा है।
लिखने का प्रयास किया है।
1

1


2
14.
पटकथा
कहानी के इस प्रसंग केआधार पर समग्र रूप से स्थान, समय ,परिवेश ,पात्रों की चाल-चलन,हाव-भाव आदि को और उचित संवादों को जोड़कर पटकथा लिखी है।
कहानी के आधार पर स्थान, समय ,परिवेश ,पात्रों की चाल-चलन,
हाव-भाव आदि मुद्दों को आँशिक रूप से जोड़कर उचित संवादों के साथ
पटकथा लिखी है।
आँशिक रूप से पटकथा लिखी है।
पटकथा लिखने की कोशिश की है।
(दृश्य -– आभास- पात्र -संवाद )
अथवा
वार्तालाप
प्रसंगानुकूल और स्वाभाविक भाषा में वार्तालाप लिखा है।
प्रसंगानुकूल वार्तालाप लिखा है।
वार्तालाप आंशिक रूप से लिखा है।
वार्तालाप लिखने की कोशिश की है।
( प्रसंगानुकूल- वार्तालाप की शैली -विचार विनिमय -शुद्धभाषा का प्रयोग )


4


3



2

1


4

3
2

1







4







4
15.
उचित शीर्षक

1

1

16.
पेड़ लगाकर

1

1
17.
कविताँश का विश्लेषण करके वर्तमान संदर्भ पर इसकी प्रासंगिकता की चर्चा
करते हुए शीर्षक देकर टिप्पणी लिखी है।
कविताँश का विश्लेषण करके शीर्षक देकर टिप्पणी लिखी है।
कविताँश का विश्लेषण करके टिप्पणी लिखी है।
टिप्पणी लिखने की कोशिश की है।
( भूमिका - विश्लेषण –- उपसंहार- शीर्षक )
अथवा
पोस्टर
पर्यावरण -संरक्षण का संक्षिप्त एवं उचित संदेश वाक्यों को जोड़कर आकर्षक ढंग से पोस्टर बनाया है।
पर्यावरण -संरक्षण का संदेश वाक्यों को जोड़कर आकर्षक ढंग से पोस्टर बनाया है।
पर्यावरण -संरक्षण का संदेश वाक्यों को जोड़कर पोस्टर बनाने की कोशिश की है।
पोस्टर बनाने की कोशिश की है।
( आकर्षकता - संक्षिप्त भाषा शैली- संदेश -उचित चित्र -स्थान,समय ,तिथि)

4

3

2
1





4

3

2
1



4









4




Prepared by
Asok kumar N.A
GHSSPerumpalam
Alappuzha (dt) Mob: 9447378576 ashokpatanjalikumar@gmail.com